तेजस्वी का दूरदर्शी घोषणापत्र, कहा – सत्ता में आए तो ताड़ी पर से रोक हटा देंगे!

0
22

राष्ट्रीय जनता दल ने सोमवार सुबह Loksabha Chunav 2019 के लिए घोषणापत्र जारी कर दिया। तेजस्वी यादव ने अपने घोषणा पत्र में आरक्षण को बड़े प्रमुखता से जगह दी है। और दें भी क्यों न, आखिर इन्हीं सब चंगुलों में गरीबों को फांसकर उनकी पार्टी ने दशकों तक बिहार पर राज किया है! इसके साथ ही तेजस्वी ने एक और दूरदर्शी घोषणा की है कि अगर उन्हें चुनाव में जीत मिलती है तो ताड़ी बेचने पर लगा प्रतिबंध हटा देंगे।

 

पढ़िए घोषणा पत्र की मुख्य बातें :

  • दलितों, पिछड़ों, अतिपिछड़ों और अनुसूचित जाति के लोगों को आबादी के अनुपात में आरक्षण मिले।
  • मंडल कमिशन रिपोर्ट के बाकी बचे सुझाव को लागू करेंगे।
  • अल्पसंख्यकों और पसमांदा समाज के लोगों की उन्नती के लिए काम करेंगे।
  • सरकारी नौकरी में प्रमोशन में आरक्षण के लिए संविधान संसोधन किया जाएगा।
  • 200 प्वाइंट रोस्टर प्रणाली लागू होगी।
  • प्राइवेट क्षेत्र में आरक्षण मिले इसके लिए कदम उठाएंगे।
  • 2021 की जनगणना में जाति और जनजाति के लोगों की संख्या कितनी है इसकी गिनती कराएंगे।
  • सामाजिक न्याय की लड़ाई को जारी रखेंगे। गरीबों, पिछड़ों और विकास की मुख्य धारा में पीछे छूट गए लोगों को सत्ता और संसाधन में भागीदार बनाएंगे।
  • चुनाव में जीत मिलती है तो ताड़ी बेचने पर लगा प्रतिबंध हटा देंगे।

 

अब Loksabha Election 2019 के लिए राजद के इन घोषणाओं को अति दूरदर्शी और सत्ता सुख देने वाला नहीं कहा जाए तो क्या कहें! इसी तरह के भावनाओं को उभारकर लालू जी तो दशकों तक सत्ता सुख भोगते रहे, लेकिन बिहार गर्त में जाता रहा! अब देखते हैं इस तरह के चुनावी घोषणाओं पर कितने लोग विश्वास करते हैं!